संविधान दिवस के पूर्व दिवस पर अधिवक्ता परिषद् सीकर की ओर से आज जिला न्यायालय परिसर में अधिवक्ता इंद्रा चौधरी, अधिवक्ता हनुमान सिंह पालवास,अधिवक्ता व परिषद के जिला संयोजक निर्मल शर्मा,सीकर बार के सचिव अधिवक्ता हितेश श्रीवास्तव के आतिथ्य में अधिवक्ताओ द्वारा संविधान दिवस मनाया गया।

प्रतिज्ञा दिलवाई 

सर्वप्रथम संविधान निर्माता बाबा भीमराव अंबेडकर को अतिथियों द्वारा पुष्पांजलि अर्पित कर कार्यक्रम का विधिवत शुरुआत की गई। बार सचिव हितेश श्रीवास्तव ने सभी अधिवक्ताओ को भारतीय संविधान की प्रस्तावना का वाचन कर संविधान सभी अधिवक्ताओ को सविधान के पालन की प्रतिज्ञा दिलवाई। विशिष्ट अतिथि हनुमान सिंह पालवास ने अधिवक्ताओ को समाज के लिए आदर्श व्यक्तित्व बताते हुए कहा कि अधिवक्ता ही वो प्रमुख कड़ी है जो संविधान द्वारा प्रदत्त अधिकारों व कर्तव्यों का पालन करवाते हुए समाज के आर्थिक,सामाजिक,राजनीतिक,धार्मिक उत्पीड़न के शिकार व्यक्ति को समानता पूर्वक न्याय दिलवाकर इस राष्ट्र के संविधान की लोकतांत्रिक परम्परा को जीवित रखने का भाव समाज मे पैदा कर सकता है।

संविधान भारत के लोकतंत्र की आत्मा है

मुख्य अतिथि श्रीमती इंद्रा चौधरी ने "सविधान व इसके समक्ष चुनौतियाँ" के बारे में बताते हुए कहा कि संविधान भारत के लोकतंत्र की आत्मा है ,संविधान ही वो ताकत है जिसके बल पर समाज का हर एक वो व्यक्ति जो भले ही वो गरीब , अमीर ,महिला ,पुरुष या किसी भी धर्म से हो उसको समानता से जीने का अधिकार हमारा संविधान देता है। लेकिन आज भी हमारे समाज में आंतरिक लोकतंत्र का अभाव होने के कारण महिलाओ ओर निर्धनों के साथ असमानता का व्यवहार होता है जो हमें हमारे सवैधानिक कर्तव्यों की पालना में शर्मसार करता है । हम सब को आज सविधान दिवस की पूर्व दिवस पर यह प्रतिज्ञा करनी चाहिए कि समाज के उपेक्षित,शोषित व महिला वर्ग को बिना किसी भेदभाव के सवैधानिक अधिकारों के साथ उनके अनुपात में आगे लाना चाहिए। इसी क्रम मेंपरिषद् के संयोजक निर्मल शर्मा ने सभी अधिवक्ताओ का आभार प्रकट करते हुए संविधान दिवस को भी स्वतन्त्रता दिवस व गणतन्त्र दिवस की भांति मनाकर भारतीय नागरिकों को उनके संवैेधानिक अधिकारों के प्रति जागरूक करने पर बल दिया।

अधिकारों की पालना का संकल्प

कार्यक्रम का संचालन अधिवक्ता परिषद के महामंत्री रामस्वरूप खीचड़ ने किया। इस अवसर पर अधिवक्ता रमेश पारीक,अधिवक्ता जगदीश गिठाला,अधिवक्ता सांवरमल बिजारणिया,बार उपाध्यक्ष भोजराज सिंह,अधिवक्ता बलदेव खण्डेला,अधिवक्ता हरीश शर्मा प्रथम व दिवित्य, अधिवक्ता नवीन शर्मा,अधिवक्ता किशोर कुमार,अधिवक्ता राहुल पारीक,अधिवक्ता अशोक पंवार ,अधिवक्ता महेश जांगिड़,अधिवक्ता रक्षा दोदराजका,अधिवक्ता शिल्पा माथुर,अधिवक्ता नागरमल कुमावत,अधिवक्ता भवानी सिंह जेरठी,अधिवक्ता भानुप्रताप यादव,अधिवक्ता सुखवीर ढाका,अधिवक्ता ओम सिंह,अधिवक्ता गौरीशंकर,अधिवक्ता बजरंग बिजारणिया ,अधिवक्ता अरुण जांगिड़,अरुण शर्मा सहित बार के अनेक अधिवक्ताओ ने सविधान दिवस के पूर्व दिवस पर संवैधानिक कर्तव्यों व अधिकारों की पालना का संकल्प लेकर संविधान दिवस मनाया।

Post a Comment

नया पेज पुराने