सेवारत चिकित्सक हीरो या विलन ? इंटरव्यू देखिये (भाग I )

मरीज मरे तो मरे सरकार और चिकित्सक दोनों लड़ेंगे, साथ ही नया मोड़ तब आ गया इस झगडे में जब दोनों के बीच संवाद करवाने वाले अधिकारीयों की भूमिका संदिग्ध हो गयी | हमारे संवाददादा जिन्होंने पूरे आन्दोलन को नजदीक से देखा वो बात कर रहे हैं डाॅक्टर अजय चौधरी (अध्यक्ष, सेवारत चिकित्सक )से |
इंटरव्यू का दूसरा भाग https://youtu.be/FhQHvDPO3l8

श्वेतपत्र या कोरे सफ़ेद कागज़? भाग 2 (सेवारत चिकित्सक हीरो या विलेन)

सबसे बड़ा खुलासा किया है डॉ अजय चौधरी ने यह कहकर कि हमारे श्वेतपत्र और सफ़ेद खाली कागज़ के बीच में क्या है सम्बन्ध, देखें इस दूसरे भाग में

मौत के सौदे को नाम दिया हड़ताल का, वाह ! (भाग 3 सेवारत चिकित्सक हीरो या विलन)

खुलासा हुआ है वार्ता असफल रहने पर बनाई गई ऐसी आपातकाल स्तिथि का जो अगर हो जाता तो पूरे राज्यभर में कोहराम मच जाता | जानिये क्या निर्देश देकर गए थे अरिस्दा कोर समिति मेम्बर अपनी दूसरी पंक्ति की लीडर शिप को

Post a Comment

नया पेज पुराने