एजेंसी : गुजरात की पुलिस ने शनिवार को ये दावा किया है कि दलित लड़के की हत्या भावनगर में कर दी गई थी उसका कारण घुड़सवारी नहीं होकर आपसी रंजिश और गाँव की लड़कियों को छेड़ना हो सकता है | पुलिस ने बताया कि लड़के के व्यवहार से गाँव वाले परेशान थे, गाँव वालों के मुताबिक़ लड़का लड़कियों को परेशान किया करता था
डीएसपी/DSP प्रवीन मलिक ने प्रेस से बात करते हुए बताया कि 21 वर्षीय प्रदीप राठौड़ की हत्या इस वजह से नहीं की गई है कि वह दलित था और घोड़ा रखता था

जांच में हुआ खुलासा 

इस संदर्भ में पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की प्रारंभिक जाँच में पाया गया कि लड़के का क़त्ल घोड़े रखने की वजह से ही नहीं हुआ जैसा एफ़आइआर में परिजनों ने दर्ज करवाया है बल्कि उसके अन्य कारण हो सकते हैं |उन्होंने कहा कि हम कारणों का पता लगाने में और अपराधियों को पकड़ने में लगे हुए हैं
लड़के का शव टिम्बी गांव में सड़क पर पड़ा मिला था जिसका कोई चश्मदीद सामने नहीं आया है

पिता पुत्र के खिलाफ मिली शिकायतें 

पुलिस ने बताया कि जाँच के दौरान उन्हें कई शिकायतें मिली जो लड़के के व्यवहार के ख़िलाफ़ थी कई गाँव वालों ने बताया कि लड़का जवान लड़कियों के पास आने पर मोटरसाइकिल और घोड़े पर स्टंट किया करता था उनके अनुसार प्रवीन माल अक्सर लड़ाई झगड़ों में भी लिप्त रहता था
पुलिस ने यह भी बताया कि प्रदीप के पिता पर जमीनों को हथियाने के आरोप लगे हुए हैं जो रंजिश का कारण हो सकता है
अंग्रेजी में खबर पढने के लिए हिंदुस्तान टाइम्स देखें



Post a Comment

नया पेज पुराने