सीकर : राहुल गाँधी की सीकर सभा में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी ने अपने भाषण के शुरुआत में पधारे हुए नेताओं का नाम लिया जिसमें सीकर जिले के सबसे महत्त्वपूर्ण दोनों नेताओं के नामों को ठीक से उच्चारण नहीं कर पाए | सुभाष महरिया को "मरिया" और गोविन्द डोटासरा को "दोस्तारा" नाम लेकर सम्बोधित किया जिसको सुनकर जनता ने हो हल्ला किया, सोशल मीडिया पर भी बीजेपी कार्यकर्ता इसका जमकर मुद्दा बनाते दिखे साथ ही कांग्रेस समर्थक जो ये माने बैठे थे कि दोनों नेता राहुल गाँधी के बहुत नजदीक हैं उनके भी मन में शंका उत्पन्न हुई |

सीकर बीजेपी के कार्यकर्ता सुबह से ही कर रहे हैं ट्रोल  

कोई आलू को लेकर कोई कमलनाथ के बयान को लेकर और कोई कुछ मुद्दे को लेकर सुबह से ही जमकर पोस्ट कर रहे हैं और राहुल गाँधी पर तंज कसने का एक भी मौका नहीं छोड़ रहे हैं|

अमित शाह की सभा में भाजपा कार्यकर्ताओं ने दिखाई थी भीषण सुस्ती  

ऐसा लगता है हाल ही में अमित शाह की सभा में बीजेपी समर्थकों द्वारा दिखाई गयी सोशल मीडिया पर सुस्ती और सभा स्थल में बहुत काम भीड़ पहुँचने पर लगी फटकार का रिएक्शन दिखाते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं ने इस मौके को अपनी सुस्त छवि को मुस्तैद में बदलने के प्रयास में लगा दिया, ठीकठाक बात यह रही कि स्थापित समर्थकों ने गाली गलोच का सहारा नहीं लिया

उम्मीद से कम दिखी भीड़ 

सचिन पायलट की मेरा बूथ मेरा गौरव प्रोग्राम में धोद में जमा भीड़ से उत्साहित कांग्रेस कार्यकर्ता लाखों की भीड़ इकट्ठी होने की बात कर रहे थे जो सभा के नजदीक आते आते सचिन पायलट के बयान में नब्बे हज़ार की टारगेट भीड़ इकट्ठे होने के दावे में बदल गई मगर प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार टारगेट के आस पास भीड़ इकट्ठी नहीं हो पायी | अलग अलग दावे अलग अलग संख्या के हैं, कुछ इसे एक लाख से ऊपर भी बताते दिखे

Post a Comment

नया पेज पुराने