जहाँ बड़े से बड़े न्यूज़ चैनलों के एग्ज़िट पोल फ़ेल हो गए वहीं पर स्वीकर टाइम्स के एग्ज़िट पोल ने सटीकता का नया पैमाना तय कर दिया। मतदान के बाद सभी चैनल अपने आपको बजाते हुए एक ही जैसे सुर में सुर मिला रहे थे और कांग्रेस को 115 से  ज़्यादा सीटें दे रहे थे वहीं पर भाजपा को 60 के अंदर ही सीटें दे रहे थे। सभी के सभी एग्ज़िट पोल में ग्राउंड सिचुएशन कवर नहीं की गई थी इसलिए कोई भी एक्जिट पोल ठीक नहीं बैठा वही पर सीकर टाइम्स ने अपने एग्ज़िट पोल में बड़ी रेंज के बजाय सटीक विवरण दिया था और हर ज़िले के बारे में सटीक जानकारियां भी थी जिसमें से तक़रीबन सही साबित हुई। 
राष्ट्रीय पत्रकारों ने दी बधाई
इतना सटीक एक्जिट पोल देने के बाद हमें देश भर के वरिष्ठ पत्रकारों के फ़ोन आ रहे हैं और सभी बधाई दे रहे हैं साथ ही उनकी उत्सुकता भी है कि हमने किस प्रकार अपने एक्जिट पोल को इतना सटीक रखा। इतना ही नहीं मतगणना शुरू होने से कुछ ही घंटे पहले एक बड़ी ख़बर ब्रेक की थी जिसमें हमने बताया था कि मध्य प्रदेश में एग्ज़िट पोल के खिलाफ़ नतीजे आने वाले हैं और हुआ भी ऐसा ही। 
घर बैठे सर्वे नहीं, फील्ड में जाकर लिया फीडबैक व अनुभव
कोरा  अंदाज़ा लगाकर तो कई लोग अपनी राय देते ही रहते हैं मगर हमने 15 दिन मध्य प्रदेश में भी लगाए थे जहाँ पर एक बड़े सर्वे एजेंसी के साथ मिलकर काम किया था इसी दौरान कुछ इंटरव्यू भी लिए थे जिन्हें आप पुराने वीडियो मैं देख सकते हैं। हमारे सर्वे का सटीक होने का सबसे बड़ा कारण किसी अन्य की राय में प्रभावित होकर ग़लत धारणा पालने की प्रवृत्ति से बचना है। हमने सटीक और ज़मीनी सर्वे किया मुद्दों पर और समीकरणों पर गणित बैठायी और उसके साथ ह हमने सटीक और ज़मीनी सर्वे किया मुद्दों पर और समीकरणों पर गणित बैठायी और उसके बाद ही अपनी राय रखी। 







Post a Comment

नया पेज पुराने