केंद्र सरकार के कड़े तेवरों के बीच राज्य सरकारें बहुत मुस्तैदी से काम कर रही है और भ्रूण हत्यारों से अच्छे से निपट रही है | इसी कड़ी में 29 साल से भ्रूण हत्या करने वाले कथित हत्यारे डॉक्टर प्रबोध गुप्ता को गिरफ्तार किया गया है | बताया जाता है कि ढाई साल पहले भी इसी डाक्टर के ऊपर कार्यवाही हुई थी मगर तब सबूत ना होने के कारण डॉक्टर साफ़ बच गया था, मगर इस बार उसकी किस्मत उसके साथ नहीं थी बल्कि उन  हजार मासूमों की रूहे उसके खिलाफ हो गई थी जिन को डॉक्टर ने दुनिया में आने से पहले ही ख़ाक कर दिया | एक विशेष टीम गुरुवार को बसंत विहार में प्रबोध गुप्ता हॉस्पिटल के संचालक डॉक्टर प्रबोध गुप्ता को भ्रूण जांच के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है| आरोपी एक जांच के लिए 20 से ₹30000 लिया करता था जिसमें से कुछ रकम दलालों को भी दिया करता था इसके साथ ही कुछ भ्रूणों को लड़की का बताकर गर्भपात करने के एवज में भी ₹20000 तक लिया करता था|  टीम के सी आई उमेश निठारवाल ने बताया कि काफी समय से प्रबोध गुप्ता द्वारा भ्रूण जांच किए जाने की शिकायतें मिल रही थी 3 दिन पहले मुखबिर ने झुनझुनु कलेक्टर ऑफ सीएमएचओ डॉक्टर राजकुमार डांगी को डॉक्टर प्रबोध गुप्ता द्वारा भ्रूण जांच किए जाने की जानकारी दी इसके बाद टीम का गठन कर आरोपी को दबोचने का प्लान तय किया गया 

टीम ने झुंझुनू के निजी अस्पताल में काम करने वाली उसके दलाल मीना सोनी से संपर्क किया टीम ने मीना को जाल में फंसाकर भ्रूण  जांच कराने के लिए राजी किया मीना सोनी ने रानोली की दूसरी दलाल नीतू से मिलवाया दोनों ने ₹30000 में भ्रूण जांच करवाई जाने की हामी भरी | गुरुवार सुबह प्रबोध गुप्ता के पास जांच करवाना तय किया गुरुवार सुबह मुखबिर को झुंझुनू के पीरु सिंह सर्कल पर बुलाया रास्ते में दलाल नीतू ने गर्भवती और मुखबिर से  30 हजार रुपए लिए | नीतू गर्भवती महिला के साथ मिलकर बसंत विहार स्थित मोद गुप्ता के अस्पताल पहुंची प्रमोद गुप्ता ने गर्भवती महिला की जांच की 2 घंटे बाद आरोपी ने लिंग की जानकारी दी जिस पर बाहर जाल फैलाये  बैठी टीम ने प्रबोध गुप्ता को दबोच लिया दलाल नीतू और झुंझुनू से मीना सोनी को भी गिरफ्तार कर लिया टीम ने आरोपियों के कब्जे से भ्रूण लिंग जांच के लिए की गई रकम जब्त की



भ्रूण लिंग जांच करने के आरोपी को दबोचने के लिए झुंझुनू कलेक्टर दिनेश यादव का एएसपी रघुवीर सिंह के नेतृत्व में टीम बनाई टीम में सीएमएचओ  डॉक्टर राजकुमार डांगी व अन्य शामिल थे इस में सामाजिक कार्यकर्ता विकास राड भी शामिल थे

Post a Comment

नया पेज पुराने