भाजपा की केन्द सरकार विकास की बजाय गाय और गोबर की राजनीति में उलझकर रह गयी। विकास के नाम पर वोट लेने वाली सरकार हर मोर्चों पर विफल है। सरकार शिक्षा और रोज़गार प्रदान करने के बजा़य धार्मिक उन्माद फैलाकर देश का ध्यान भटका रही हैं। यह विचार आनंद क्लासेज में आयोजित राज्यस्तरीय एस एफ आई कन्वैशन में दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर राजीव कुँवर ने प्रकट किए।
शिक्षक संघ के राज्य महामंत्री महावीर सुहाग ने कहा कि सरकार शिक्षा का निजीकरण कर रही हैं। निजीकरण के कारण शिक्षा महंगी हो गयी है। इस कारण आम आदमी तक शिक्षा नहीं पहुंच रही हैं। वसुंधरा सरकार ने सत्ता में आने से पहले प्रत्येक उपखंड स्तर पर महाविद्यालय खोलने का उल्लेख अपने अपने घोषणा पत्र में किया है। मगर अभी तक उन्होंने अपनी घोषणाएं पूरी नहीं की।
इस अवसर पर एस एफ आई के राज्याध्यक्ष सुनील पूनीयाँ, डी वाई एस एफ आई के जगजीत सिंह, राज्य महामंत्री महीपाल सिंह सहित अनेक पदाधिकारी तथा सुरेश बगड़िया सहित अनेक कार्यकर्ता मौजूद थे।
photo credit: respective cartoonist 

Post a Comment

नया पेज पुराने