9:22 बाक़ी मीडिया ने स्वतः ही हड़ताल ख़त्म की जारी की झूठी घोषणा। जबकी अभी तक भी वार्ता है जारी। राकेश हीरावत और Dr. संजय गुप्ता अंदर मीटिंग में थे ही नहीं जिसका पता होने के बाद भी मीडिया ने उनकी बात को आधिकारिक मान लिया। बता दें कि उन पर लगा हुआ है सरकार के साथ नज़दीकी का आरोप और अरिस्दा core committee ने बना रखी है इन दोनों से दूरी। media को अपना स्तर सुधारना ही पड़ेगा।
यह पोस्ट का लिंक यहाँ है जहाँ से वेरीफाई किया जा सकता है कि इस खबर के पब्लिश होने तक भी मीटिंग खंत्म नहीं हुई थी (इसके दो घंटे बाद हुई थी ) https://www.facebook.com/SikarTimes/photos/a.1707220609518397.1073741829.1698049700435488/1979656158941506/?type=3

Post a Comment

नया पेज पुराने