सीकर, 21 मार्च। जिले के 779 गांवों में तीन दिन तक चिकित्सा विभाग की 857 टीमें घर-घर जाकर मौसमी बीमारियों के लिए आमजन को जागरूक करेगी। बुधवार को चिकित्सा विभाग की स्वास्थ्य दल आपके द्वार अभियान का शुभारंभ जिला कलेक्टर श्री नरेष कुमार ठकराल ने हरी झंडी दिखाकर किया। बाद में सभी टीमों को सीकर शहर के 50 वार्डों के लिए रवाना की गई।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अजय चौधरी ने बताया कि प्रदेष में शुरू हुए स्वास्थ्य दल आपके द्वार अभियान को विभाग ने नवाचार के रूप में लिया है। चिकित्सा विभाग की 805 टीमें गांवों के साथ शहरी क्षेत्र में आमजन को जागरूक करने के साथ मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए एंटीलार्वा गतिविधि व फोगिंग करवाई जाएगी। उन्होंने बताया कि शुभारंभ के अवसर पर कल्याण चिकित्सालय के प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ.एस.के.शर्मा, अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अषोक महरिया, आरसीएचओ डॉ.निर्मल सिंह, क्षय रोग अधिकारी डॉ. विषाल सिंह, उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सी.पी.ओला, उप मुख्य नियंत्रक डॉ. हरिसिंह, स्टेट माइक्रोबायोलोजिस्ट डॉ.रूचि सिंह, जीएनएम सेंटर के प्राचार्य रिछपाल सिंह भास्कर व एनएनएमटीसी सेंटर के अधीक्षक पवन कुमार, डीपीएम प्रकाष गहलोत, अरबन हैल्थ प्लानिंग कंसल्टेंट प्रदीप चाहर, जिला ऐपिडेमियॉलोजिस्ट डॉ. अबिंका प्रसाद जांगिड एवं कई चिकित्सक, स्वास्थ्य कार्मिक व नर्सिंग छात्र मौजूद थे। उक्त अभियान में गुरूकृपा हॉस्पिटल के डॉ. महेन्द्र बुडानिया एवं बिदंल अस्पताल के निदेषक नटवर बिदंल का विषेष सहयोग रहा।

अतिरिक्त मुख्य सचिव का नवाचार

प्रत्येक जिले में अभियान की मॉनिटरिंग राज्य स्तर से 
प्रदेष में चलाए जा रहे स्वास्थ्य दल आपके द्वार अभियान का नवाचार चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती वीनू गुप्ता के निर्देषानुसार चलाया जा रहा है। पूरे अभियान की मॉनिटरिंग भी अतिरिक्त मुख्य सचिव कार्यालय स्तर पर ही सभी जिलों में की जा रही है।

23 मार्च तक चलेगा अभियान, हर दिन होगी रिपोर्ट तैयार

सीएमएचओ डॉ. चौधरी ने बताया कि स्वास्थ्य दल आपके द्वार अभियान 23 मार्च तक चलेगा। अभियान में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले में स्वाईन फलु मलेरिया और डेंगु से बचाव के लिए एंटी लार्वा एक्टिविटी एवं सोर्स रिडक्षन कार्य किया जा रहा है। मच्छरों को पनपने से रोकने के लिए नाले नालियों कुलर परिण्डों टंकियों इत्यादि में टेमिफोस डाला गया एवं रूके हुए पानी में एमएलओ डाला गया। विभाग के स्वास्थ्य दलों ने घर घर जाकर लोगों को मच्छरजनित रोगों के बारे में जानकारी दी और साफ सफाई पर ध्यान देने का सुझाव दिया। 

रविवार को रहेगा सुखा दिवस 

जिले में रविवार को सुखा दिवस रखने का आव्हान डिप्टी सीएमएचओ ने किया है। डिप्टी सीएमएचओ ने बताया कि सुखा दिवस के दिन विद्यार्थी अपने घरों व सभी पानी जमा होने के स्रोत जैसे हाथ धोने की टंकी, नालियां, फ्रीज की ट्रे को खाली कर सुखाकर रगड़कर,साफ कर मच्छरों के खिलाफ एंटी लार्वा एक्टिविटी करेंगे। उपमुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सी. पी. ओला ने बताया कि स्वास्थ्य दल आपके द्वार अभियान के अन्तर्गत की गई कार्यवाही एवं स्वास्थ्य षिक्षा से लगभग 60 से 70 प्रतिषत डेंगु मलेरिया एवं स्वाईन फलु केसेज में कमी आयेगी। मौसमी बिमारियों की रोकथाम हेतु स्वास्थ्य दल के द्वारा घर घर जाकर सफाई अभियान चला रहा है।

टीम की मॉनिटरिंग के लिए 134 निरीक्षक लगाए

डिप्टी सीएमएचओ डॉ. सी.पी.ओला ने बताया कि अभियान के लिए सीकर जिलें में 857 टीम का गठन किया गया है। उक्त टीमों का निरीक्षण हेतु 134 निरीक्षकों को लगाया गया है। प्रत्येक टीम में लगभग 5 स्वास्थ्य कार्यकर्त्ताओं को शामिल कर टीम बनाई गई है। जिले के सभी नर्सिंग विद्यार्थियों को लार्वा की पहचान, एंटीलार्वल गतिविधि व एंटी एडल्ट गतिविधि का प्रशिक्षण दिया जा चुका है। जिला से खण्ड स्तर तक नर्सिंग विद्यार्थियों के दल बनाकर वार्ड वार जिम्मेदारी देते हुए एक्षन प्लॉन के साथ घर-घर भ्रमण कर एंटी लार्वल एक्टिविटी द्वारा सोर्स रिडक्शन की कार्यवाही किये जाने हेतु निर्देष प्रदान किये जा चुके है।

जीण माता मेलें मे की जायेगी एंटी लार्वल एक्टिविटी

नवरात्र के दौरान चल रहे जीणमाता के मेले में भी जिला कलक्टर के निर्देषों की पालना में 22 मार्च को चिकित्सा विभाग के द्वारा स्वास्थ्य दल आपके द्वार अभियान के अन्तर्गत एंटी लार्वल एक्टिविटी करवाकर मौसमी बिमारियों की रोकथाम के लिए निर्देषित किया जा गया है।

भामाषाहों ने किया विषेष योगदान

स्वास्थ्य दल आपके द्वार अभियान के अन्तर्गत गुरूकृपा हॉस्पिटल के डॉ. महेन्द्र बुडानिया एवं बिदंल अस्पताल के निदेषक नटवर बिदंल के द्वारा विषेष सहयोग प्रदान किया गया।





Post a Comment

नया पेज पुराने