जयपुर-भाजपा से रुष्ट वरिष्ठ विधायक घनश्याम तिवाड़ी ने पार्टी को कहा बॉय-बॉय जयपुर में मीड़िया से मुखातिब होकर कहा कि अब भारत वाहिनी अगला चुनाव लङेगे।अध्यक्ष अमित शाह को इस्तीफा भेज दिया है सांगानेर से विधायक तिवाड़ी प्रदेश में सबसे अधिक मतों के अंतर से जीतकर विधायक बने थे lमुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से तल्ख रिश्तों से काफी समय भाजपा में साइड लाइन रहे तिवाड़ी l अब देखना दिलचस्प होगा कि क्या राजस्थान मे तीसरा मोर्चा कामायाब होता है या पिछली बार की तरह (किरोङीलाल मीणा )तरह नाकामयाब रहता है ।और धनश्याम तिवाङी पिछले चार पाॅच वर्ष से सवर्ण आरक्षण के पक्ष मे बोलते रहे है अब यह देखना होगा कि क्या वो इस बात पर कायम रहते है या फिर राजनीति ही करेगे !
वसुंधरा राजे ने जब से राजस्थान की राजनीति में एंट्री मारी है तब से जसवंत सिंह और घनश्याम तिवाड़ी उनसे अलग थलग रहा करते थे उसका बड़ा कारण यह था कि भैरों सिंह शेखावत जब अपना उत्तराधिकारी चुन रहे थे उस समय उन्होंने जसवंत सिंह और घनश्याम तिवाड़ी सरीखे नेताओं को छोड़कर वसुंधरा राजे सिंधिया जैसे नए चेहरे को अपना उत्तराधिकारी घोषित किया। 
इस प्रकार के आरोप लगते रखते हैं कि घनश्याम तिवाड़ी को अपनी नाराज़गी के बदले सांगानेर की प्रगति में भी वसुंधरा राजे की अनदेखी का सामना करना पड़ा। तिवाड़ी आरोप लगाते हैं कि ज़्यादातर योजनाएं लागू नहीं की जाती कोई भी विकास कार्य सांगानेर का होता है तो उसको वरीयता श्रेणी में सबसे निचले पायदान पर रखा जाता है जिससे सांगानेर की जनता घनश्याम तिवाड़ी से नाराज़ हो जाए और किसी तरह उनकी राजनीति से विदाई करने का मौका मिल जाए। 


Post a Comment

नया पेज पुराने