श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना ने बयान जारी कर कहा है कि सोशल मीडिया मार्फत सुनियोजित षड्यंत्र रचते हुए भ्रांतियां फैलाने वाले कुछ लोग क्षत्रिय समाज की एकजुटता के दुश्मन है। 
सुप्रीमो गोगामेड़ी ने कहा कि श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना द्वारा किसी भी रावत राजपूत स्वाभिमान मंच,राजस्थान नामक कथित संगठन से कोई भी पैक्ट अथवा समझौता नहीं किया गया है।

करणी सेना राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं गुजरात प्रदेश प्रमुख राज शेखावत जी द्वारा ऐसे किसी भी संगठन के साथ किसी भी तरह का पैक्ट या समझौता किए जाने का खंडन करते हुए, राज शेखावत जी ने कहा है कि सोसियल मीडिया और अन्य साधनों द्वारा कुछ लोगों द्वारा क्षत्रिय समाज की एकजुटता तोड़ने का यह षड्यंत्र रचा गया है, और सोसियल मीडिया पर सोची समझी रणनीति के तहत पिछले दो दिनों से पोस्टें वाइरल की जा रही है, राज शेखावत जी ने सभी क्षत्रिय सिरदारों और युवा बंधुओं से अपील की है कि, ऐसे षड्यंत्रो में कोई भी तथ्यात्मक सच्चाई नहीं है, और सभी को ऐसे किसी भी षड्यंत्र का मुंहतोड़ जबाब देना चाहिए,  उन्होंने दोबारा से अपने प्रतिबद्धता दोहराई कि कोई भी क्षत्रिय समाज की एकजुटता को तोड़ नहीं सकता। उन्होने चेतावनी देते हुए कहा कि इस प्रकार श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना का नाम कोई भी बिना सहमति लिए मनमाने तरीके से लेगा  तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहें



Post a Comment

नया पेज पुराने