दांतारामगढ़ ऐसी सीटों में से थी जहाँ RLP और भारत वाहिनी दोनों ही पार्टियों के उम्मीदवार पूरे जोश के साथ मैदान में थे और यह उस समय की बात है जब दोनों ही पार्टियां अपना अलग अस्तित्व में थी मगर अब समीकरण बदल गए हैं दोनों ही पार्टियां भाजपा कांग्रेस से गठबंधन कर चुकी हैं तो इनके वोट अब दोनों पार्टियों को फायदा देंगे| सीकर लोकसभा क्षेत्र में दांतारामगढ़ बढ़त बनाने वाली जगह है इसलिए इसके समीकरण जानने जरुरी हैं

कितने वोट आये थे RLP और भारत वाहिनी पार्टी को ?

बात वोटों की नहीं है मगर एक लहर जो गठबंधन से बनी है उसकी वजह से भाजपा को फायदा हो सकता है | वैसे अगर मान लिया जाए कि भारत वाहिनी  पार्टी के सभी वोट कांग्रेस और RLP के सभी वोट भाजपा को चले जाएँ तो कितना फायदा मिल सकता है इसलिए लिए पहले रिजल्ट पर नज़र डालते हैं
PARTYVOTES POLLED% VOTESCANDIDATE NAME
INC6493134.41%Virendra SinghWon
BJP6401133.92%Harish Chand Kumawat
CPI(M)4518623.95%Amraram
BSP36611.94%Kalu Ram
IND27821.47%Vijendra
IND17500.93%Hanuman Singh
API16250.86%Prahlad Barwar
IND14140.75%Ram Singh
NOTA11880.63%Nota
RLP3970.21%Mukesh Kumar
IND3830.20%Sanwarmal
IND3010.16%Banshilal Kataria
IND2650.14%Ashok Kumar Verma
BVP2460.13%Mahavir Prasad Kumawat
IND2390.13%Kamal Kishor


यहाँ RLP को 397 और भारत वाहिनी को 246 वोट मिले थे इसके हिसाब से अगर दोनों ही पार्टियों के वोट अपने अपने गठबंधन को चले जाएंगे तो 151 वोट फिर भी भाजपा को बढ़त दिला देंगे |

एक एक वोट का महत्व होता है चुनाव

लोक सभा चुनाव में लाखों मतदाता होते हैं इसलिए 151  वोट भी हार जीत के लिए बहुत मायने रखते हैं, ऐसे में भाजपा को अच्छी बढ़त अगर नहीं मिल पाती तो ये वोट उसके लिए जीवनदायिनी बन सकते हैं, बाकि 23 मई को क्लियर हो जाएगा 

Post a Comment

नया पेज पुराने