भाजपा ने अपने चुनावी एजेंडा को घर घर पहुँचाने के लिए और हर विधानसभा के युवाओं तक सरकार द्वारा किये गये कार्यों को पहुँचाने के लिए हर विधान सभा में संयोजक नियुक्त किए हैं। रतन लाल सैनी को सीकर का संयोजक नियुक्त किये जाने से चुनावी हलचलें तेज हो गई है। रतन लाल सैनी RSS के अत्यंत समीप है एवं उनकी छवि संघर्षशील व प्रगतिशील है। इसमें कोई दो राय नहीं कि पिछला चुनाव सीकर विधान सभा में मोदी ही जीते थे मगर इस बार मोदी इफेक्ट नहीं यहाँ का लोकल इफेक्ट काम में लाना पड़ेगा जो एक जटिल कार्य साबित होगा। सीकर विधायक रतन जलधारी ने सीकर में विकास कार्य किए हैं मगर सीकर की जनता के समक्ष उन्हे कितनी प्रसिद्धि मिल पाई है यह कोई छुपी हुई बात नहीं। रतन लाल सैनी को कई ऐसे प्रश्नों का सामना करना पड़ेगा जिनसे बचना उनकी हिंदूवादी छवि को देखते हुए आसान नहीं रहेगा, तैयार रहें। 



Post a Comment

नया पेज पुराने