जयपुर : रालोपा के समर्थकों में एक फर्जी लेटर को लेकर उत्साह है जिसको पहली नज़र में ही कोई भी समझ जाए कि शरारती तत्वों की शरारत है

क्या लिखा है लेटर में 

लिखा है कि राष्ट्रीय लोकतान्त्रिक पार्टी को क्षेत्रीय पार्टी का दर्जा मिल गया और बोतल चुनाव चिन्ह का अलॉटमेंट हो गया राजस्थान में मगर इसका सब्जेक्ट पढ़कर पता लग रहा है कि फर्जी है

क्या गलतियां हैं लेटर में 

सब्जेक्ट ही अगर कोई पढ़े तो साफ़ दिख रहा है कि इसमें अरुणाचल प्रदेश राज्य का जिक्र है जबकि नीचे राजस्थान लिखा हुआ है मगर इतनी डिटेल पढ़ने की फुर्सत किसे होती है

क्या रालोपा को क्षेत्रीय पार्टी का दर्जा नहीं मिला 

अभी तक इलेक्शन कमीशन की वेबसाइट पर इसके बारे में कोई सूचना नहीं है और कोई प्रेस विज्ञप्ति भी जारी नहीं की गई है, अलग से बुलाकर इलेक्शन कमीशन किसी को लेटर नहीं देता इसलिए फ़िलहाल दर्जा नहीं मिला है

अफवाहों और बेनीवाल का रिश्ता पुराना है, जानिए बेनीवाल की टॉप अफवाहें 

 १.बेनीवाल ने भाषण में कहा कि खिमसर में  उनके समर्थकों ने मोदी का माइक पकड़कर उनके (बेनीवाल)के नारे लगाए
२. बाड़मेर रैली में दस लाख भीड़ थी ऐसा बेनीवाल कई बार कहते  रहे हैं मगर मात्रा 60 हज़ार स्क्वायर फुट में दस हज़ार से ज्यादा नहीं आ सकते

ये भी पढ़ें --->बेनीवाल की बाड़मेर हुंकार रैली की 10 हज़ार भीड़ को 10 लाख बनाकर परोसा गया




Post a Comment

नया पेज पुराने